दुःखद ख़बर: उत्तराखंड का एक लाल देश के लिए फिर शहीद हुआ

Slider उत्तराखंड देश

एक बड़ी दुखद खबर आपको बता दे की आतंकवाद विरोधी आपरेशन में 13 ग्रामीण सुरक्षा बलों की गोलियों का निशाना बन गए।

वहीं, इस घटना में एक जवान की भी मौत हुई। ये जवान उत्तराखंड का निवासी था। वहां के सीएम के साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह घटना पर दुख जता रहे हैं।

नागालैंड में जो घटना हुई, वो दिल दहला देने के साथ ही हमारी सुरक्षा एजेंसियों की चूक है। नगालैंड में सुरक्षा बलों के एक आतंकवाद विरोधी ऑपरेशन में ‘गलत पहचान’ के चलते कई स्थानीय लोग मार दिए गए। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, मरने वालों की संख्या करीब एक दर्जन है, वहीं सुरक्षा बल का एक जवान की भी शहीद हो गया है ,

घटना म्यांमार की सीमा से लगे नागालैंड के मोन जिले के ओटिंग गांव की है। नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफियू रियो (Neiphiu Rio) ने शांति की अपील करते हुए रविवार सुबह ट्वीट किया कि राज्य के मोन जिले के ओटिंग गांव में ‘दुर्भाग्यपूर्ण घटना’ की वजह से ‘नागरिकों की हत्या’ हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि उच्च स्तरीय विशेष जांच दल इसकी जांच करेगा।सूत्रों ने बताया कि एक गुप्त सूचना पर सुरक्षा बलों ने तिरु-ओटिंग सड़क पर घात लगाकर हमला करने की योजना बनाई थी, लेकिन गलती से ग्रामीणों को उग्रवादी समझ लिया। हमले में ग्रामीणों के मारे जाने पर स्थानीय लोग गुस्साई भीड़ में तब्दील हो गए और सुरक्षा बलों को घेर लिया। पुलिस सूत्रों ने कहा कि सुरक्षा बलों को ‘आत्मरक्षा’ में भीड़ पर गोलियां चलानी पड़ीं और कई ग्रामीणों को गोलियां लगी। सुरक्षा बलों के कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया।सीएम ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि-मोन के ओटिंग में दुर्भाग्यपूर्ण घटना में नागरिकों की हत्या अत्यंत निंदनीय है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना। उच्च स्तरीय एसआईटी जांच करेगी और देश के कानून के मुताबिक न्याय मिलेगा। सभी वर्गों से शांति की अपील।केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस घटना पर दुख जाहिर किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘नगालैंड के ओटिंग, मोन में एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना से दुखी हूं। जिन लोगों ने अपनी जान गंवाई, उनके परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार द्वारा गठित एक उच्च स्तरीय एसआईटी इस घटना की गहन जांच करेगी, ताकि शोक संतप्त परिवारों को न्याय मिल सकेशहीद जवान उत्तराखंड निवासीइस घटना में लोगों के हमले में उत्तराखंड का एक जवान शहीद हो गया। पैराशूट रेजीमेंट की 21वीं बटालियन के पैराट्रूपर जवान गौतम लाल टिहरी गढ़वाल के नौली गांव के रहने वाले थे। पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जवान के शहीद होने पर दु:ख व्यक्त किया है। सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट में पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि -मां भारती की रक्षा की खातिर ओटिंग, नागालैंड में आतंकियों से मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए पैराशूट रेजिमेंट की 21वीं बटालियन के पैराट्रूपर जवान गौतम लाल जी (ग्राम नौलि, टिहरी गढ़वाल) की शहादत को मेरा सलाम। आपके साहस, शौर्य व समर्पण पर मां भारती के साथ ही सैन्यधाम गौरवान्वित है। ईश्वर पुण्यात्माओं को शांति व परिजनों को धैर्य प्रदान करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.