विजय के जज्बे ने देहरादून से साइकिल से कन्याकुमारी का सफ़र तय किया

Slider उत्तराखंड

कन्याकुमारी:

विजय प्रताप सिंह ने सफलतापूर्वक किया हिमालय से हिन्द महासागर तक का साहसिक साइकिल अभियान : . देहरादून से ८ अक्टूबर को शुरू हो कर २६ अक्टूबर को कन्याकुमारी में तिरंगा फहराकर दिया पर्यावरण तथा साहसिक खेलों को अपनाने का संदेश .

देहरादून से शुरू होकर दिल्ली, मथुरा, आगरा, झांसी, सागर, नागपुर, हैदराबाद, बैंगलोर, मदुरई होकर कन्याकुमारी तक के इस साइकिल अभियान का मुख्य उद्देश्य देश के युवाओं को प्रगतिशील भविष्य के प्रति जागरूक करना था,
जिसमे (आउटडोर एडवेंचर का एक अहम् योगदान है)।

अलग अलग शहरों में आर्मी कमांडरों से भी मुलाकात की और युवाओं को दिया टेरीटोरियल आर्मी ज्वाइन करने का संदेश .

विदित रहे विजय खुद एक एडवेंचर कंपनी एडवेंथ्रिल चला कर पहाड़ो में युवाओं को रोजगार उपलब्ध करा रहे हैं .

देहरादून वापस आकर फिर से निकल पड़ेंगे पहाड़ो में ट्रैकिंग की दुनिया में वापस
इसी क्रम में ये अभियान करके युवाओं को ये सन्देश देना चाहते हैं की चाहे रास्ते में कितनी भी बाधाएं आएं चाहे लोग कितने भी आपके खिलाफ जाएँ चाहे कोई कुछ भी करे अगर आप अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित हैं तो आपको सफलता से कोई नहीं रोक सकता। विगत पांच वर्षों में एडवेंथ्रिल ने माउंटेनियरिंग, ट्रैकिंग, वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी, रॉक क्लाइम्बिंग, साइकिलिंग में काफी कार्य किया है और इसका श्रेय वो नेहरू पर्वतारोहण संस्थान को देते हैं जहाँ से उन्होंने माउंटेनियरिंग तथा एडवेंचर में प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

विजय ने बताया ये सफर बड़ा ही कठिन था, बारिस धुप जंगल ,रात सब को पार करते हुए बिना किसी टीम सपोर्ट के १६ दिन साइकिल चलाते हुए पूरा किया ये सफर .

Leave a Reply

Your email address will not be published.