कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी का आपदा प्रभावितों ने किया धन्यवाद

Slider उत्तराखंड

देहरादून:

देहरादून के पर्यटक स्थल सहस्त्रधारा क्षेत्र के ब्रहमपुरी में देर रात को हुई भारी वर्षा के कारण हुए भूस्खलन से वहां रह रहे निवासियों के घर मलबा घुसने से मकान क्षतिग्रस्त होने तथा एक महिला घायल हो गई। आज कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने जिलाधिकारी सोनिका के साथ प्रभावित क्षेत्र का भ्रमण किया तथा प्रभावितों को जिला प्रशासन द्वारा अहेतुक एवं गृह निर्माण धनराशि रूपये 331000 (तीन लाख इक्तीस हजार रूपये मात्र) सहायता के चैक मौके पर ही प्रदान किये गए।
कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मौके पर जाकर प्रभावित परिवारों से मिले तथा सरकार की ओर से हर संभव सहायता का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार दैवीय आपदा जैसी घटनाओं पर संवेदनशील है। सरकार का प्रयास है कि दैवीय आपदा जैसी स्थिति में तत्काल राहत बचाव कार्य प्रारंभ करते हुए नुकसान को कम किया जा सके। सरकार इसके लिए तत्पर रूप से कार्य कर रही है।

वही प्रभावितो ने कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी का धन्यवाद किया ।

वही जिला प्रशासन द्वारा मौके पर ही प्रभावितों इन्द्रेश मोहन पुत्र नित्यानन्द डोभाल रूपये 3800, अनिल पुत्र नित्यानन्द डोभाल रूपये 3800, र्दुगेश्वरी देवी पत्नी चन्द्र बहादुर रूपये 9000, प्रेमचन्द्र पुत्र अमोलक राम रूपये 9000, सुरेश पुत्र मातबर सिंह रूपये 9000, वीर सिंह चैहान पुत्र मोहर सिंह रूपये 98800, दिगम्बर सिंह चैहान पुत्र मोहर सिंह रूपये 98800, रमेश पुत्र मातबर सिंह रूपये 98800, को सहायता राशि प्रदान की गई। मौके पर एसडीआरएफ की टीम द्वारा मलवा हटाने का कार्य किया जा रहा है तथा जिला प्रशासन की टीम मौके पर मौजूद है। जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका ने जिला प्रशासन की टीम को मौके पर बने रहने तथा लोनिवि एवं संबंधित विभागों के अधिकारियों को क्षतिग्रस्त पुस्ते, सड़क को ठीक करने के साथ ही निर्देश दिए कि इस प्रकार कि व्यवस्था बनाई जाए कि बारिश के दौरान पानी एवं मलबा किसी के घरों में न घुसें। उन्होंने कहा कि राहत बचाव कार्य जारी है तथा आगे किसी प्रकार की असुविधा न हो इसका ध्यान रखने के निर्देश दिए गए है।
इस दौरान उप जिलाधिकारी मसूरी/सदर नरेश चन्द दुर्गापाल, तहसीलदार सदर सोहन सिंह रांगण, अधि0 अभि0 लोनिवि डी.सी नौटियाल सहित संबंधित विभागों के अधिकारी एवं कार्मिक मौजूद रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.