Video Report : सुरकुंडा देवी के दर्शन कर बोले त्रिवेंद्र सिंह रावत प्रदेश में भर्ती घोटाला चिंता का विषय है

Slider उत्तराखंड

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पहुंचे माँ सुरकंडा देवी मंदिर। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का स्थानीय लोगों ने भव्य स्वागत किया। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने माँ सुरकुंडा देवी के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया । साथ ही माँ सुरकुंडा पर्वत पर वृक्षारोपण किया।
मंदिर समिति के सदस्यों के साथ कई समस्याओं पर विचार विमर्श किया साथ ही माँ सुरकुंडा देवी के पैदल मार्ग पर पर्यटकों द्वारा फैलाई गई गंदगी को एकत्रित कर अपने साथ लेकर कूड़ेदान में डाला। सुरकुंडा देवी के आसपास के सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं व स्थानीय ग्रामीणों ने पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का स्वागत किया।

उन्होंने स्थानीय जनता के साथ साथ प्रदेश से भी आह्वान किया कि सभी अपने मंदिरों, पर्यटक स्थलों , घर के आसपास कचरा न फेकें, न फेकने दें, साफ सफाई करें। सभी के सहयोग से देवभूमि साफ सुथरी रहेगी।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश में भर्ती घोटाला चिंता का विषय है , इसमें जो सुयोग्य बच्चें है उनके भविष्य के साथ शार्टकट वाले और रिश्वत देने वाले लोग हमारी ऐजेंसी को प्रभावित कर रहे हैं :

उन्होंने कहा कि इसका रिदम कांग्रेस के कार्यकाल में था , उसके बाद जब मैं मुख्यमंत्री बना तो तब उस घोटाले को पकड़ा गया था,और अब फिर से एक ऐसा घोटाला सामने आया है। ऐसा ही एक घोटाला उत्तर प्रदेश के समय बहुत पहले अधिनस्त सेवा चयन आयोग का आया था तब उसे निरस्त किया गया था, ऐसे में अगर इस तरह अत्याचार नई जनरेशन के साथ होता है तो इसे भंग कर देना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे लोगों को पकड़ा जाना चाहिए चाहे कोई कितना बड़ा भी हो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

उन्होंने ऋषिपर्णा परियोजना के बारे में कहा कि जब वह मुख्यमंत्री थे तब उसकी डीपीआर बनायी गई थी ,जो चल रही है, उसके लिए 21 लोगों का तकनीकि स्टॉफ की भी नियुक्ति की गई थी,, वहीं वन विभाग से भी अनापत्ति मिल गयी है व यह कार्यक्रम जारी है इस योजना के लिए ऋण देने की प्रक्रिया जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.